पहले पूछते थे कब बुलेट ट्रेन लाओगे, अब लाया तो पूछ रहे हैं क्यों लाए'

अहमदाबाद। पीएम मोदी ने आज जापान के पीएम शिंजो आबे के साथ बुलेट ट्रेन का शिलान्यास किया। इस मौके पर मोदी ने विपक्षियों को निशाना साधने का मौका जाने नहीं दिया। मोदी ने कहा कि जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था तो पूछते थे कि कब बुलेट ट्रेन लाएंगे लेकिन अब जब लाया तो पूछ रहे है कि क्यों लाए।

जापान को दिया श्रेय

-मोदी ने जापान के पीएम शिंजो आबे को अपना परम मित्र बताते हुए कहा कि आबे हम सभी का सबसे अच्छा मित्र है। अच्छे दोस्त समयसीमा से परे होते हैं। बुलेट ट्रेन का सबसे बड़ा श्रेय मेरे परम मित्र शिंजो आबे को जाता है। उन्होंने प्रोजेक्ट में कोई कमी नहीं आने दी। 
-मोदी ने कहा कि लोग बैंक की ब्याज दर में मामूली कमी होने पर खुशी जताते हैं लेकिन जापान ने तो लगभग जीरो प्रतिशत पर लोन दिया है। कोई ऐसा दोस्त या बैंक नहीं मिल सकता है कि बिना ब्याज के ही लोन  दे रहे हो। जापान पचास साल में जीरो प्वायंट एक प्रतिशत ब्याज दर पर लोन दे रहा है। 
-मोदी ने कहा कि बुलेट ट्रेन से रोजगार और रफ्तार बढ़ेगी। समय के साथ जरूरतें भी बदली है। धीरे-धीरे बढ़ने का वक्त नहीं है। समय ज्यादा इंतजार नहीं करता है।
-न्यू इंडिया के सपनों का उड़ान का अंत नहीं है। रेलवे के कारण अमेरिका में आर्थिक विकास का नया दौर आया है। 
-हाईस्पीड कनेक्टिविटी पर हमारी प्राथमिकता है। प्रोडक्टिविटि तभी बड़ेगी जब हाईस्पीड कनेक्टिविटी होगी।